वेकोलि क्षेत्रीय मुख्यालय के सामने कामगारोका विशाल धरणा प्रदर्शन

0
122
Advertisements

कोल इंडिया लिमिटेड के निजीकरण को वेकोलि कामगार संघटनोका विरोध

चंद्रपूर /रवि रायपुरे (कार्यकारी संपादक)

Advertisements

वेस्टर्न कोल इंडिया लिमिटेड, चंद्रपूर क्षेत्रिय प्रधान कार्यालय चंद्रपूर के सामने तारीख 8 ऑक्टोबर 2020 को संयुक्त संघर्ष समिती,वेकोली चंद्रपूर क्षेत्र द्वारा “कमर्शियल मायनिंग” भारत सरकार की मजदूर विरोधी नितीया एवं लेबर कोड बिल के विरोध में अनेक मजदुर संघटनोके हजारो मजदूरोने धरना प्रदर्शन किया!

भारत सरकार द्वारा कोयला खदानोका निजीकरण करके पूंजीपतीयोका राज लाना चाहती है! ओपन कास्ट और अंडरग्राउंड खदानो मे अपनी जान की बाजी लगा कर कही मजदूरो ने अपनी जान गवा कर वेकोली प्रशासन केथ आर्थिक स्थिती को उभारा है! फिर भी मजदुरो का हक्क और अधिकार छीना जा रहा है! इसीके चलते हुए माहे जुलै 2020 के 2,3, और 4 तारीख को देशव्यापी काम बंद आंदोलन किया गया और इस आंदोलन को पुरे देश में सौ प्रतिशत सहयोग मिला! फिरभी भारत सरकार की आखे खुली नही है!

उपरोक्त धरना प्रदर्शन को वेकोलि इंटक मजदूर संघटन के महामंत्री श्री.के.के.सिंह, एचएमएस संघटन के सेफ्टी बोर्ड मेंबर श्री.महंगी यादव, बीएमएस के चंद्रपूर क्षेत्रीय सचिव श्री. रणजीत पटले, आयटक के चंद्रपूर क्षेत्रीय अध्यक्ष श्री. प्रदीप चिताडे,सीटु संघटन के चंद्रपूर क्षेत्रीय सचिव श्री. रामन्ना जी,इन्होने कामगारोंको संबोधन किया! उसवक्त रविंद्र जोगी, भारत कुंभारे,शेख कासम, दीपक मद्दीवार और भारी संख्या में महिला और पुरुष कामगार उपस्थित थे! धरना प्रदर्शन का मंच संचालन श्री. दिलीप बरगी द्वारा किया गया!

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here